बांग्ला जात्रा नाट्य: आमी रातेर रजनीगंधा विरुबांध गांव ने किया मंचन

चंदनकियारी(बोकारो): स्थानीय हटिया मैदान में राज्य सरकार के कला संस्कृति मंत्रालय के सहयोग से चंदनकियारी महोत्सव समिति द्वारा आयोजित बांग्ला जात्रा सह नाट्य मंचन प्रतियोगिता 2018 के 16 वें दिन मंच पर प्रखण्ड के शुदर्शन क्लब विरुबांध ग्राम नाट्य मण्डली द्वारा बंगला नाटक “आमी रातेर रजनीगंधा” का मंचन किया गया।
जिसके माध्यम से स्थानीय कलाकारों ने वर्तमान समाज में घर में विवि, बहु पर अत्यचार करना। अत्याचार का बदला लेने के लिए घर में रंगीन मिजाज के बीवी से शादी कर उसी को घर ले आने पर, बीवी के इशारे पर बाकी रिश्तो को भूल जाना, बीवी के लिए अपने मां बाप को घर से बाहर निकाल देना और पुरानी रीती रिवाजों को ठुकराना।

https://youtu.be/i-xcVlTXaGE

दहेज प्रथा के कारण बह-ु बेटियों का आत्महत्या करना, सामाजिक विकृति पर चित्रण किया, जिससे लोगों को सन्तोषी जीवन व्यतीत कर सुख व शांति प्राप्त करने की शिक्षा दी गयी।
नाटक के माध्यम से पूंजीपतियों के हाथों न्याय व्यवस्था को बिकने की परंपरा पर कुठाराघात किया गया। ताकि निर्दोष लोगों के साथ अन्याय के लिए कानून का उल्लंघन नही हो।
नाट्य मंचन प्रतियोगिता में प्रति रात्रि इस कड़कते ठंड में भी सैकड़ों की संख्या में दर्शक महिला- पुरुष की भीड़ उमड़ रही है। जो कलाकारों की कलाकारी व नाट्य मंचन की व्यवस्था की सराहना कर रहे हैं।
कलाकार क्रमशः देवेंद्र शेखर, पंकज शेखर, त्रिलोचन सिंह, रमेश, कैलाश, रंजन सहिस,पप्पू, वीरेन, मुरारी, मुन्ना, विक्रम, कलेबर, बबलू, मौसमी, गांगुली, समोली पाल, कविता सरकार चयनित अभिनेता अौर अभिनेत्री को श्रेष्ठ अभिनय के लिये आज के मुख्य अतिथि द्वारा पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।
समृद्ध झारखण्ड के लिए चंदनकियारी से मुकेश मिश्रा की रिपोर्ट…
error: Content is protected !!
WhatsApp chat

हमारे मासिक पत्रिका समृद्ध झारखण्ड की अपनी प्रति आज ही सुरक्षित करने के लिए पर क्लिक करें।