कलाकारों ने किया कोलिर दुर्गा धरेछे त्रिशूल बंगला नाटक का मंचन

बोकारो: चंदनकियारी स्थित हटिया मैदान में झारखंड सरकार के कला संस्कृति विभाग की ओर से आयोजित बंगला नाट्य मंचन प्रतियोगिता सह कार्यशाला के 19 वें दिन चंदनकियारी के सोलहआना महामाया ओपेरा के कलाकारों ने कोलिर दुर्गा धरेछे त्रिशूल का मंचन किया।
उक्त यात्रा में वर्तमान समय की परिवारिक स्थिति को दर्शाया गया। जिसमें एक साधारण व्यक्ति के पुत्री का असामाजिक तत्वों के द्वारा रेप हो जाता है। एक लड़का शादी के लिए तैयार होने पर लड़की के भावी ने षड़यंत्र के तहत शादी तोड़ देते हैं। जिससे पूरा परिवार बिखर जाता हैं।
बाद में वही लड़की दुर्गा के रूप धारण कर उस बलात्कारी से बदला लेती हैं। नाटक के निर्देशना में रंजीत ओझा व सह निर्देशना में समीर दे, मैनेजर संतोष कुमार ओझा, संचालक सह उपदेष्टा के रूप में अनुकूल ओझा तथा कलाकारों में अजित धर, धनेश्वर साव, रामकृष्ण मान, सुभाष दे, मनपुरण अड्ड़ी, गोपाल दे, अभिजीत भगत, सुबोध पाल, जयदेव, जितेन्द्र दे ने मुख्य भूमिका में थे। वही निर्णायक मंडली में भवेश तिवारी, जनार्दन सिंह, त्रिलोचन महतो उपस्थित थे।
समृद्ध झारखण्ड के लिए चंदनकियारी से मुकेश मिश्रा की रिपोर्ट…
error: Content is protected !!
WhatsApp chat

हमारे मासिक पत्रिका समृद्ध झारखण्ड की अपनी प्रति आज ही सुरक्षित करने के लिए पर क्लिक करें।