देशी खाद्य का उपयोग करके हार्ट अटैक से बचा जा सकता है: डॉ. सत्यजीत बोस

रांची: चेम्बर भवन में हार्ट अटैक पर एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया। प्रेस वार्ता में हार्ट अटैक से बचने के उपाय बताते हुए दुर्गापुर के मिशन हॉस्पीटल से आए हुए कार्डियक सर्जन, डॉ. सत्यजीत बोस ने बताया कि अपने देसी खाद्य पदार्थों को ही अपनाएं जिसे खाकर आप बडे हुए हैं, क्योंकि शरीर को उसी खाने की आदत हो जाती है। व्यायाम, योगा या प्राणायाम तो अवश्य ही करें। झारखण्ड की आम जनता को हार्ट अटैक और हृदय की बिमारियों से बचाव और उसके लक्षण एवं प्राथमिक उपचार की जानकारी देने के लिए फेडरेशन ऑफ झारखण्ड चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इन्डस्ट्रीज में प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए उन्होंने बताया कि झारखण्ड सरकार से वार्ता हुई थी यहां 500 बेड के हॉर्ट के अस्पताल बनाने के संबंध में, जिसपर अबतक कोई पहल नहीं की गई है।

देखें वीडियो

झारखण्ड के हॉर्ट के मरीजों के बारे में जानकारी देते हुए डॉ. सत्यजीत बोस ने बताया कि अभी हमारे दुर्गापुर के मिशन अस्पताल में झारखण्ड से आए मरीजों की बाईपास सर्जरी बीपीएल वर्ग के लोगों के लिए एक लाख 90 हजार में की जाती है। इस 500 बेड के अस्पताल के लिए 5 एकड जमीन की जरूरत है जो लोगों के लिए सुगम और सुलभ हो।

हार्ट अटैक के लक्षण :
लोगों की आम धारणा से पर्दा उठाते हुए डा0 सत्यजीत बोस ने कहा कि जरूरी नहीं है कि दर्द सीने के बांए तरफ हो बल्कि हार्ट अटैक का दर्द छाती के बीचों बीच होता है एवं ऐसा महसूस होता है कि छाती के अंदर कुछ निचोड़ा जा रहा है एवं साथ ही बुरी तरह पसीना आता है जिससे व्यक्ति का कपडा भी बुरी तरह गीला हो जाता है और जिन्हें डायबटीज होता है उन्हें हार्ट अटैक के लक्षण गैस की भांति होता है और उनकी मौत नींद में सोए हुए ही हो जाती है।

हार्ट अटैक आने पर क्या करेंः
आधे ग्लास पानी में दो गोली डिस्प्रीन घोल कर तुरंत पिलाना चाहिए और पेन 40 की एक गोली लेनी चाहिए। आपके शहर में किस हॉस्पिटल में कैथलैब है इसकी जानकारी जरूर रखें, दो घंटे के भीतर अगर कैथलैब वाले अस्पताल में मरीज पहुंच जाय तो उसे बचाया जा सकता है। इसके अलावा उन्होंने सभी लोगों से अपील की कि अपने दैनिक जीवन शैली में बदलाव करें एवं जंक फूड से दूर रहने की सलाह दी।

प्रेस वार्ता में फेडरेशन चेम्बर की ओर सह सचिव अश्विनी राजगढिया, कार्यकारिणी सदस्य पंकज पोददार, शंशांक भारद्वाज, अमित शर्मा, दिपेश निराला, सहित अन्य सदस्य उपस्थित थे।

error: Content is protected !!
WhatsApp chat

हमारे मासिक पत्रिका समृद्ध झारखण्ड की अपनी प्रति आज ही सुरक्षित करने के लिए पर क्लिक करें।