खिलाड़ियों ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर झारखण्ड और देश का नाम रोशन किया है: अमर बाउरी

रांची: राजधानी के मोरहाबादी मैदान स्थित एस्ट्रो टर्फ स्टेडियम में 64 वें नेशनल स्कूल हॉकी टूर्नामेंट 2018- 19 का आयोजन किया गया। जिसका उद्घाटन सूबे के मंत्री अमर कुमार बाउरी ने किया। साथ ही उन्होंने खिलाड़ियों के मार्चपास्ट को सलामी दी।

वहीं युवा खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि इस तरह के राष्ट्रीय स्तर के मैच खिलाड़ियों के अंदर आत्मविश्वास को बढ़ाता है। उन्होंने कहा कि झारखंड के जीन में ही हॉकी है। यहां के गांव- गांव में यह खेल खेला जाता है। झारखंड की धरती से कई महान खिलाड़ियों ने अपनी प्रतिभा से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर झारखण्ड और देश का नाम रोशन किया है।

उन्होंने कहा कि सभी टीम जीत के लिए मैदान पर उतरती है। लेकिन जीतता वही है जो पूरे लगन के साथ विरोधी खिलाड़ियों को पराजित करता है। खेल में हार जीत लगी रहती है लेकिन हर खिलाड़ी हर मैच के बाद कुछ न कुछ सीख कर जाता है। खेलमंत्री ने सभी खिलाड़ियों को झारखंडवासियों की तरफ से शुभकामनाएं दी।

हॉकी को लेकर झारखंड में काफी रुझान है। यहां हॉकी के एक से बढ़कर एक धुरंधर खिलाड़ी उभरकर सामने आए हैं। हॉकी का गढ़ हमेशा से झारखंड को माना जाता रहा है। राजधानी रांची के मोरहाबादी मैदान में इन दिनों देशभर के हॉकी खिलाड़ियों का जमावड़ा लगा है।

बात दें कि 29 नवंबर से 3 दिसंबर तक 64 वें नेशनल स्कूल हॉकी टूर्नामेंट 2018 -19 का आयोजन किया गया। इसमें देश की 69 टीमें हिस्सा ले रही हैं। बालक वर्ग में 39 टीमों के बीच कड़ी टक्कर देखी जाएगी। वहीं, बालिका वर्ग में 30 टीमें हिस्सा ले रही हैं। आयोजन के पहले दिन 7 मैच संपन्न हुए।

error: Content is protected !!
WhatsApp chat

हमारे मासिक पत्रिका समृद्ध झारखण्ड की अपनी प्रति आज ही सुरक्षित करने के लिए पर क्लिक करें।