प्रधानमन्त्री ने दिया सम्मान, करने निकली समाज का कल्याण

पप्पू पांडेय

सरिया(गिरिडीह): दिन रात कड़ी मेहनत करके एक मुक़ाम हासिल किया, इतना ही नहीं अपने राज्य की गरिमा को बढ़ाने का भी भरपूर श्रेय किरण के नाम है। यह इसलिए क्योंकि उन्होंने CSC के माध्यम से प्रधानमंत्री से सम्मान पाया।

आज किरण अपने समाज को आइना दिखाती हुई व्यवसाइयों के विरुद्ध अकेली ही खड़ी हो गई है। वो भी इसलिए क्योंकि समाज नेक इरादों को समझने को तैयार नहीं हो रहे हैं।

किरण ने सरिया के व्यवसायी लोगों से गुहार लगाया है कि वे रेलवे द्वारा बनाये जा रहे ओवरब्रिज का विरोध करना बन्द करें। ओवरब्रिज के ना होने से आये दिन दुर्घटनाएं होती हैं, दुर्घटनाओं के बाद उग्र जनता पीड़ित या आश्रित के साथ सड़कों पर उतर आते हैं ऐसे में रेलवे की ओवरब्रिज बनाने के निर्णय को सहृदय स्वीकार करना चाहिए। लेकिन व्यवसाइयों के तेवर सातवें आसमान पर होने के कारण ओवरब्रिज के कामों में रुकावटे आ रही है इसके कारण सम्मानित किरण को अपने ही समाज के विरुद्ध मजबूती से खड़ा होने की वक्त आन पड़ी है।

किरण ने बताया की जब हम सम्मान ले सकते हैं तो हमारा दायित्व चौगुना बढ़ जाता है कि हम समाज को उसके असली रंग को आईना बनकर दिखाएँ। इसलिए मैं अपने व्यवसायिक समाज के विरुद्ध खुलकर बोल रही हूँ ताकि आनेवाले दिनों में किसी को भी रेल दुर्घटना का शिकार न होना पड़े।

मैंने अपने आँखों से देखा है एम्बुलेंस को जिसमें जिंदगी और मौत से जूझ रहा व्यक्ति भी जाम निकलकर अस्पताल पहुंचने का आश देखता है।

स्कूल से आ रहे बच्चे जाम में खड़ी गाड़ियों के हॉर्न और भूख- प्यास से बेचैन होकर तड़पते हैं।

आज जब हमें ओवरब्रिज के रूप में दुर्घटनाओं को ब्रेक लगाने वाला स्थान मिल रहा है तो इसका विरोध करने वाले सरिया के नागरिक मंच के घड़ियाल आंसू का पर्दाफाश करने के लिए हम हस्ताक्षर अभियान चलाकर पीएमओ तक भेजेंगे। जहां इनकी मंशा पर पूर्णविराम लग सके।

error: Content is protected !!
WhatsApp chat

हमारे मासिक पत्रिका समृद्ध झारखण्ड की अपनी प्रति आज ही सुरक्षित करने के लिए पर क्लिक करें।