बेहतर स्वास्थ्य सुविधा से महरूम सरिया

पप्पू पाण्डेय


सरिया(गिरिडीह): जिले का प्रमुख व्यवसायिक मंडी के रूप में चर्चित सरिया प्रखंड इन दिनों बेहतर स्वास्थ्य सुविधा से महरूम है। लगभग दो लाख की आबादी वाला यह प्रखंड आज भी उप स्वास्थ्य केंद्र पर आश्रित है, जहां न तो स्थाई तौर पर एक MBBS चिकित्सक हैं और न ही कोई महिला डॉक्टर। एक दशक पूर्व सरिया बगोदर प्रखंड के अधीनस्थ था।

उस समय उप स्वास्थ्य केंद्र सरिया में जो व्यवस्था थी आज भी वही स्थिति बनी हुई है। जबकि वर्ष 2008 में सरिया प्रखंड बगोदर से अलग हुआ था। वहीं बगोदर-सरिया अनुमंडल जिसका मुख्यालय सरिया में है यह भी वर्ष 2015 में अपने अस्तित्व में आया। तब स्थानीय जनमानस को भरोसा हुआ था कि सरिया में स्वास्थ्य सुविधा में सुधार होगा, लोग बेहतर स्वास्थ्य सुविधा की अपेक्षा करने लगे थे।

लेकिन जनता की इस सोच पर भी पानी फिर गया। आज यदि सरिया में बेहतर स्वास्थ्य सुविधा की बात की जाए तो यह बेईमानी होगी। यहां एक भी MBBS चिकित्सक नहीं है। सरिया अनुमंडल होने के बाद भी यहां का उप स्वास्थ्य केंद्र बगोदर स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के भरोसे संचालित हो रहा है।


सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक अस्पताल का दरवाजा खुला रहता है। इसके पश्चात अस्पताल बंद हो जाता है। वहीं 3 बजे के बाद यदि कहीं कोई अप्रिय घटना दुर्घटना हो जाती है ऐसी स्थिति में घायल या बीमार व्यक्ति को बगोदर ले जाते समय बीच रास्ते में ही उसकी असामयिक मौत हो जाती है।

जबकि स्वास्थ्य सेवा बहाल करने के लिए सरकार द्वारा एनआरएचएम (राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन) तथा आयुष्मान भारत जैसे कई योजनाओं की शुरुआत की गई थी। जिसका उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवा में बुनियादी सुधार लाना था। परंतु यहां की जनता आज तक उसके लाभ से वंचित रही है। स्थानीय लोगों ने जनप्रतिनिधियों से अपेक्षा किया है कि उप स्वास्थ्य केंद्र सरिया को बगोदर से अलग किया जाए और सरिया में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनाया जाए। जिससे चौबीसों घंटे यहां की जनता को स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध हो सके।

इस संबंध में स्थानीय विधायक नागेंद्र महतो ने कहा कि सरिया में स्वास्थ्य सेवा सुधारने के लिए सरकार गंभीर है। यहां अस्पताल परिसर में निर्माणाधीन भवन का कार्य प्रारंभ करने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। वहीं उप स्वास्थ्य केंद्र सरिया को अविलंब सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में परिवर्तित किया जाएगा। यहाँ स्थायी तौर पर MBBS डॉ. के साथ महिला चिकित्सक के लिए हम जनप्रतिनिधि प्रयासरत हैं। वहीं आगामी विधानसभा सत्र में सरिया की स्वास्थ्य संबंधित मामले को उठाया जाएगा। जिससे यहां की जनता को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध हो सके।

error: Content is protected !!
WhatsApp chat

हमारे मासिक पत्रिका समृद्ध झारखण्ड की अपनी प्रति आज ही सुरक्षित करने के लिए पर क्लिक करें।