Samridh Jharkhand
Fastly Emerging News Portal from Jharkhand

हत्या की फिराक में लगे चार अपराधी चढ़े पुलिस के हत्थे, तीन देशी कट्टा बरामद

0 216

गिरिडीह : जिला के बिरनी थाना पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस की सक्रियता से एक बड़ा अपराध होने से टल गया। बिरनी पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर हत्या की साज़िश रच रहे चार अपराधियों को हथियार के साथ भरकट्टा बाजार स्थित एक होटल से दबोचने में सफलता पाई है। हालांकि मौके पर से एक अपराधी के भाग जाने की बात भी बताई जा रही है। गिरफ्तार किए गए अपराधियों के पास से पुलिस ने तीन देशी रिवाल्वर, चार गोलियां के अलावे दो बाइक और चार हजार रुपये नगद भी बरामद किया है।

60 हजार में मिली थी सुपारी

गुरुवार को पुलिस लाइन में एक प्रेस वार्ता एसपी सुरेंद्र झा ने इस संबंध में विस्तृत जानकारी दी। एसपी ने बताया कि गिरफ्तार चारों अपराधियों में से तीन सुपारी किलर हैं और चौथा सुपारी देने वाला व्यक्ति है। जिन चार अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है उनमें से तीन डुमरी के जितकुंडी निवासी अकबर अंसारी, बिरनी थाना क्षेत्र के बेरगी गांव व नगड़ी निवासी सुलेमान व मजीद अंसारी शामिल है। जबकि चौथा सुपारी देने वाला बिरनी अंतर्गत गुडिटांड का रहने वाला इज़रेल अंसारी है। जबकि मौके पर से एक अपराधी फखरुद्दीन अंसारी भागने में सफल रहा। बताया गया कि इज़रेल अंसारी ने अपने ही दुकान के स्टाप पिंटू विश्वकर्मा की हत्या के लिए साठ हजार रुपये में सुपारी दी थी।

पत्नी से अवैध संबंध के कारण हत्या की रची थी साज़िश

जानकारी देते हुए एसपी सुरेंद्र झा ने बताया कि इज़रेल अंसारी की पत्नी और उसके स्टाप पिंटू विश्वकर्मा के बीच अवैध संबंध के कारण पिंटू की हत्या का प्रयास किया जा रहा था। पिंटू विश्वकर्मा इज़रेल के दुकान में स्टाप था और उसका इज़रेल की पत्नी के साथ अवैध संबंध बन गया था। इज़रेल अंसारी को जब इस बात की भनक लगी तो उसने अपनी पत्नी और पिंटू विश्वकर्मा दोनों को समझाया। मगर फिर भी दोनों के बीच रिश्ता बना रहा। इस मामले को लेकर गांव में पंचायती भी हुई मगर जब पिंटू विश्वकर्मा और इज़रेल अंसारी की पत्नी के बीच का संबंध खत्म नहीं हुआ तो इज़रेल ने पिंटू विश्वकर्मा को रास्ते से हटाने का निर्णय किया। जिसके बाद इज़रेल इन चारों अपराधियों के साथ मिलकर पिंटू की हत्या का योजना बनाई थी।