Samridh Jharkhand
Fastly Emerging News Portal from Jharkhand

दृढ़ इच्छाशक्ति और संघर्ष से मंजिल की राह हो जाती है आसान : दिवस

इंडियन आइडल के मंच पर दिवस की रंगीन हुई दिवाली

0 784

- sponsored -

- Sponsored -

शमीम अहमद

हजारीबाग : खुदी को कर बुलंद इतना कि हर तकदीर से पहले खुदा बंदे से खुद पूछे बता तेरी रजा क्या है.. जी हां, इन पंक्तियों को चरितार्थ कर दिखाया है झारखंड के रामगढ़ जिला के जुल्मी प्रखंड स्थित बयांग गांव निवासी दिवस कुमार नायक ने. अपनी गायकी और पेंटिंग से रातों-रात सुर्खियां बटोरने वाले दिवस बीते छह वर्षों से किसी भी पर्व की खुशियां मनाने से महरूम थे.

6 वर्ष बाद खुशी से दिवाली मनाना उन्हें अपने सपनों के साकार होने जैसा लग रहा है. बता दें कि दृढ़ इच्छा शक्ति के धनी दिवस ने 6 वर्ष पूर्व बिना घर में जानकारी दिए अपने सपने पूरा करने की चाह लेकर मुंबई चले गए. मुफलिसी और घर की तंगी वाले हालात ने उन्हें झकझोर कर रख दिया था. मुंबई की गलियों में भटकते दिवस को बमुश्किल कैंटीन में बर्तन धोने का काम मिला,0 जिसे स्वीकार कर मन में संजोए सपने को पूरा करने की आस में जी जान से अपने काम में जुटे रहे.

उनके पंख को उड़ान तब मिली जब वह इंडियन आईडल सीजन 11 के ऑडिशन राउंड में बॉलीवुड के प्रसिद्ध गायक कैलाश खेर के सैंया तू जो छू ले प्यार से गाकर मंचासीन जजों सहित देश के करोड़ों लोगों का दिल जीत लिया.

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

पहले राउंड में सलेक्शन होने और गोल्डन कार्ड मिलने के बाद जब सेकेंड राउंड में दिवस अपनी परफॉर्मेंस देने के लिए इंडियन आइडल के मंच पर आये तो जजों ने दिवाली की खुशियों का जिक्र किया, जिसके बाद बिफरते हुए दिवस ने कहा कि मैंने मुफलिसी में अपने दिन बिताए हैं और बीते 6 वर्षों से बर्तन मांजते वक्त ना दिवाली और ना ही होली का पता चला. उन्होंने कहा कि हां इतना जरूर है कि दिवाली में पटाखों की आवाज कानों तक सुनाई देती थी पर वे खुशियां नसीब नहीं हो पाती थी.

दिवस की बातें सुन जज के रूप में मौजूद नेहा कक्कड़ भावुक हो उठीं और उनकी आंखों से आंसू छलक आए. उन्होंने दिवस की खुशियों के लिए दिवाली के तोहफे स्वरूप एक लाख रुपये दिये और घरवालों के साथ मिलकर दीपावली पर्व की खुशियां मनाने की बात कही. भावुक दिवस ने थैंक्यू मैम बोलकर नेहा कक्कड़ का आभार व्यक्त किया.

खास बातचीत के दौरान दिवस ने बताया कि 6 वर्षों के बाद दीपावली की खुशियां मनाना वाकई दिल को बेहद सुकून देने वाला है. उन्होंने बताया कि इस दौरान इंडियन आइडल के सभी चुने हुए प्रतिभागियों के साथ-साथ मुझे भी कौन बनेगा करोड़पति के मंच पर जाने का मौका मिला और बिग बी से हमारी मुलाकात हुई. उन्होंने कहा कि अमिताभ बच्चन ने मुझे आशीर्वाद दिया जिससे मैं अपने आप में काफी गौरवान्वित महसूस हो रहा हूं. उन्होंने सोनी टीवी, इंडियन आईडल का मंच और जजों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इंडियन आइडल ने मुझे फर्श से अर्श पर लाकर खड़ा कर दिया है.

इस मंच ने मुझे पूरे देश में पहचान दिलायी है. आज मैं बेहद खुश हूं, साथ ही उन्होंने कहा कि मेरे जैसे कई प्रतिभावान युवा जो मुफलिसी या अन्य वजहों से अपनी प्रतिभा को उस मुकाम तक नहीं ले जा पा रहे हैं जिसकी तमन्ना वह अपने दिलों में रखते हैं तो वैसे युवाओं को बिल्कुल निराश होने की जरूरत नहीं है. दृढ़ इच्छा शक्ति के साथ साथ संघर्ष जारी रखें. साथ ही पारिवारिक सदस्यों की दुआ और ईश्वर पर भरोसा रखें. आपकी मंजिल एक दिन आपको मिलकर रहेगी.

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -